top of page
  • Writer's pictureKishori Raman

# आओ रचे नया इतिहास #



परिवर्तन जीवन की सच्चाई है अतः इनसे घबराना नही है बल्कि इसे स्वीकार करना है। अपने आप को परिस्थितियों के अनुसार ढाल कर और आपस मे एकता बनाकर आगे बढ़ते रहना है। हमे ये याद रखना है कि अगर रात हुई है तो सुबह जरूर होगी और सुबह हुई है तो रात भी आएगी। इन्ही विचारों पर आधारित है आज की ये कविता जिसका शीर्षक है ..... आओ रचे नया इतिहास


अनिश्चितताओ के दौर तो आते है पर हमे इनसे घबराना नही है परिवर्तन तो जीवन की सच्चाई है हमे इन से भय खाना नही है नियति का चक्र तो यूँ ही चलता है समय के साथ सब कुछ बदलता है सूखे पंखुड़ी झरते हैं जब फूलो से टहनियों से नया शतदल निकलता है जीतने के लिए कुछ तो करना होगा कुछ पाने के लिए कुछ खोना होगा आने वाला कल का सूरज हमारा होगा पर पहले अपने आप को बदलना होगा आओ हम थामे एक दूसरे का हाथ आओ हम चले समय के साथ जीतेगा वही जिसमे जितने का दम हो आओ रचे हम एक नया इतिहास किशोरी रमण BE HAPPY....BE ACTIVE...BE FOCUSED...BE ALIVE If you enjoyed this post, please like , follow,share and comments. Please follow the blog on social media.link are on contact us page. www.merirachnaye.com





127 views4 comments

4 commentaires


Membre inconnu
18 oct. 2021

Wonderful story.....

J'aime

sah47730
sah47730
17 oct. 2021

प्रेरक व समयानुकूल कविता।

J'aime

verma.vkv
verma.vkv
17 oct. 2021

बिल्कुल सत्य है। हम सब मिलकर एक नया इतिहास रच सकते हैं ।

J'aime

kumarprabhanshu66
kumarprabhanshu66
16 oct. 2021

समय के साथ चलने बाला ही सफल होता है।

J'aime
Post: Blog2_Post
bottom of page